Custom image
Who's Online
We have 1 guest online

 

केंद्रीय विद्यालय रोइंग की स्थापना  १३ अप्रैल २००३ को हुई | यह विद्यालय केंद्रीय विद्यालय संगठन के निर्देशानुसार सुव्यवस्थित रूप से चल रहा है| यह विद्यालय तिनसुकिया संभाग के अंतर्गत आता है और कक्षा दसवीं तक शिक्षा प्रदान करने में अग्रिम भूमिका निभा रहा है | विद्यालय में सभी शिक्षक उच्च शिक्षा ग्रहण करके ही अध्यापन व्यवसाय में विलीन हुए है| इन्हीं के अथक परिश्रम के कारण ही विद्यालय ने कुछ ही वर्षों में अच्छा नाम कमाया है| रोइंग क्षेत्र में केंद्रीय विद्यालय रोइंग एक प्रतिष्ठित संस्थान के रूप में उभरा है| विद्यालय का उद्देश्य केवल शिक्षा प्रदान करना ही नहीं रहा है बल्कि विद्यार्थियों के सर्वांगीण विकास के लिए सभी शिक्षक , प्राचार्य प्रयत्नशील रहते हैं | आज केंद्रीय विद्यालय रोइंग में ३५२ तक छात्र संख्या पहुँच गई है | विद्यालय सभी आधुनिक सुविधाओं जैसे कंप्यूटर, प्रोजेक्टर, इलेक्ट्रॉनिक रूम युक्त है और शिक्षा प्रदान करने के क्षेत्र में प्रभा वी तरीके से योगदान दे रहा है| विद्यालय  विद्यार्थियों के ज्ञान उपार्जन करने की प्रेरणा ही नहीं देता बल्कि अर्जित ज्ञान को अपने दैनिक जीवन में अपनाने के लिये प्रोत्साहित भी करता है| मानसिक विकास के साथ-साथ विद्यार्थियों के शारीरिक विकास हेतु सभी तरह के खेल से सबंधित उपकरण उपलब्ध है | विद्यालय का पुस्तकालय हिंदी, अंग्रेजी और संस्कृत भाषा की पुस्तकों से परिपूर्ण है |
(डॉ. विश्वजीत साहा)
प्राचार्य

UBI FEE COLLECTION FOR TEACHERS LOGIN URL

 

Online FEE Collection link for students/parents

 

विद्यालय की वर्तमान अवसरंचना के आलोक चित्र (उपरोक्त स्लाइड)

-:सुविचार:-

भीड़ हमेशा उस रास्ते पर चलती है जो रास्ता आसान लगता है, लेकिन इसका मतलब यह नहीं की भीड़ हमेशा सही रास्ते पर चलती है| अपने रास्ते खुद चुनिए क्योंकि आपको आपसे बेहतर और कोई नहीं जानता.


Last Updated (Wednesday, 20 September 2017 20:56)

 
dsc07990.jpg
1.jpg
dsc07880.jpg
dsc07797.jpg
dsc07833.jpg
dsc07940.jpg